स्वराज पार्टी

‘स्वराज पार्टी’ का उद्देश्य कांग्रेस के अन्दर रहकर चुनाव में हिस्सा लेना, विधान परिषद् में स्वदेशी सरकार के गठन की मांग तथा मांगों को न मानने पर विधान परिषद् की कार्यवाही में बांधा उत्पन्न करना था।

‘स्वराज पार्टी’ का उद्देश्य क्या-क्या था?

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना इलाहाबाद (प्रयागराज) में हुई थी।

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना कब की गयी थी?

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना कहां हुई थी?

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना किन-किन लोगों ने की थी?

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना मार्च 1923 ई0 को की गयी थी।

‘स्वराज पार्टी’ की स्थापना मोतीलाल नेहरू और सी. आर. दास ने की थी।

दिल्ली में कांग्रेस के विशेष अधिवेशन में ‘स्वराज पार्टी’ को मान्यता प्रदान की गई थी।

भारतीयों को सर्वप्रथम सांसद बनने का गौरव ‘स्वराज पार्टी’ की राजनीति के फलस्वरुप प्राप्त हुआ था।

मद्रास प्रांत के ‘स्वराज पार्टी’ के संस्थापक कौन थे?

मद्रास प्रांत के ‘स्वराज पार्टी’ के संस्थापक श्री निवास आयंगर थे।

श्रमिक स्वराज पार्टी की स्थापना 1928 ई० में हुई थी।

श्रमिक स्वराज पार्टी की स्थापना कब हुई थी?

श्रमिक स्वराज पार्टी के संस्थापक काजी नजरूल इस्लाम थे।

श्रमिक स्वराज पार्टी के संस्थापक कौन थे?

सर्वप्रथम संविधान सभा की अवधारणा स्वराज पार्टी ने प्रस्तावित की थी।

संविधान सभा की रचना हेतु संविधान सभा का विचार सर्वप्रथम स्वराज पार्टी ने प्रस्तुत किया था।

स्वराज पार्टी की स्थापना किसने की थी?

स्वराज पार्टी की स्थापना मोती लाल नेहरू ने की थी।

स्वराज पार्टी के सी. आर. दास की मृत्यु के बाद कांग्रेस की बागडोर किसके पास चली गई थी?

स्वराज पार्टी के सी. आर. दास की मृत्यु के बाद कांग्रेस की बागडोर महात्मा गांधी जी के पास चली गई थी।

स्वराज पार्टी ने भारत के लिए संविधान सभा की रचना हेतु संविधान सभा का विचार सर्वप्रथम कब प्रस्तुत किया था?

स्वराज पार्टी ने सर्वप्रथम संविधान सभा की अवधारणा 1935 ई0 में प्रस्तावित की थी।

स्वराज पार्टी ने सर्वप्रथम संविधान सभा की अवधारणा कब प्रस्तावित की थी?

स्वराज पार्टी ने संविधान सभा की रचना हेतु संविधान सभा का विचार सर्वप्रथम 1924 ई० में प्रस्तुत किया था।

Subjects

Tags