सम्मेलन

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ नवम्बर 1919 ई० में कहां हुआ था?

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ नवम्बर 1919 ई० में दिल्ली में हुआ था।

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ में किन-किन पार्टियों ने भाग लिया था?

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस और मुस्लिम लीग ने भाग लिया था।

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ में सर्वसम्मति से किसको अध्यक्ष चुना गया था?

‘अखिल भारतीय खिलाफत सम्मेलन’ में सर्वसम्मति से महात्मा गांधी जी को अध्यक्ष चुना गया था।

‘गांधी-इर्विन समझौते’ से महात्मा गांधी जी किस सम्मेलन में भाग लेने को तैयार हो गये थे?

‘गांधी-इर्विन समझौते’ से महात्मा गांधी जी द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में भाग लेने के लिए तैयार हो गये थे।

अखिल भारतीय किसान सभा के प्रथम सम्मेलन का अध्यक्ष कौन था?

अखिल भारतीय किसान सभा के प्रथम सम्मेलन का अध्यक्ष स्वामी सहजानंद थे।

कैबिनेट मिशन द्वारा शिमला में आयोजित सम्मेलन 11 मई, 1946 ई० को समाप्त हुआ था।

कैबिनेट मिशन द्वारा शिमला में आयोजित सम्मेलन कब समाप्त हुआ था?

कैबिनेट मिशन द्वारा शिमला में सम्मेलन 5 मई, 1946 ई० को प्रारम्भ हुआ था।

कैबिनेट मिशन द्वारा शिमला में सम्मेलन कब प्रारम्भ हुआ था?

तीनों गोलमेज सम्मेलनों में भाग लेने वाले भारतीय प्रतिनिधि कौन थे?

तीनों गोलमेज सम्मेलनों में भाग लेने वाले भारतीय प्रतिनिधि डाॅ. भीम राव अम्बेडकर थे।

तृतीय गोलमेज सम्मेलन का आरम्भ 17 नवम्बर 1932 ई० को आरम्भ हुआ था।

तृतीय गोलमेज सम्मेलन का आरम्भ कब हुआ था?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन किस समस्या पर विवाद के कारण पूर्णत् असफल हो गया था?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन के बाद भारत आकर महात्मा गांधी जी किस वायसराय से मिलने गये थे?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन के बाद भारत आकर महात्मा गांधी जी वायसराय बेलिंगटन से मिलने गये थे।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में कांग्रेस के एकमात्र प्रतिनिधि के रूप में किसने भाग लिया था?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन में कांग्रेस के एकमात्र प्रतिनिधि के रूप में महात्मा गांधी ने भाग लिया था।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन लंदन में 7 सितम्बर, 1931 ई० को आरम्भ हुआ था।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन लंदन में कब आरम्भ हुआ था?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन समाप्त करने की घोषणा 01 दिसम्बर, 1931 ई० को की गई थी।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन समाप्त करने की घोषणा कब की गई थी?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन सम्प्रदायिक समस्या पर विवाद के कारण पूर्णत् असफल हो गया था।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन से निराश होकर गांधी जी बम्बई 28 दिसम्बर, 1931 ई० को लौटे थे।

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन से निराश होकर गांधी जी बम्बई कब लौटे थे?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन से वापस भारत आने के बाद किस वायसराय ने महात्मा गांधी से मिलने से इंकार कर दिया था?

द्वितीय गोलमेज सम्मेलन से वापस भारत आने के बाद वायसराय बेलिंगटन ने महात्मा गांधी से मिलने से इंकार कर दिया था।

प्रथम गोलमेज सम्मेलन कहां आयोजित किया गया था?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन का उद्घाटन ब्रिटेन के किस सम्राट ने किया था?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन की अध्यक्षता किस प्रधानमंत्री ने की थी?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन में कुल कितने सदस्य थे?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन में ब्रिटिश राजनीतिक दलों के कितने सदस्य थे?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन में भाग लेने वाले भारतीय राजनीतिक दलों के प्रमुख नेता कौन-कौन थे?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन में भारतीय राजनीतिक दलों के किस-किस वर्ग के प्रतिनिधि थे?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन में भारतीय राजनीतिक दलों के सदस्यों की संख्या कितनी थी?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन लंदन में 12 नवम्बर, 1930 ई० को प्रारम्भ हुआ था।

प्रथम गोलमेज सम्मेलन लंदन में कब प्रारम्भ हुआ था?

प्रथम गोलमेज सम्मेलन लंदन में कब समाप्त हुआ था?

प्रथम पृथ्वी शिखर सम्मेलन कहाँ हुआ था?

प्रथम पृथ्वी शिखर सम्मेलन ब्राजील में हुआ था।

ब्रिटिश शासकों द्वारा भारतीयों को बराबर का दर्जा देने वाला प्रथम वार्ता सम्मेलन कौन था?

लॉर्ड वेवेल द्वारा शिमला सम्मेलन में भारतीय समस्याओं के नवीन हल प्रस्तुत करने की योजना को ‘वेवेल योजना’ के नाम से जाना जाता है।

लॉर्ड वेवेल द्वारा शिमला सम्मेलन में भारतीय समस्याओं के नवीन हल प्रस्तुत करने की योजना को किस नाम से जाना जाता है?

लॉर्ड वेवेल ने ‘शिमला सम्मेलन’ का आयोजन शिमला में 25 जून, 1945 ई० को किया था।

लॉर्ड वेवेल ने ‘शिमला सम्मेलन’ का आयोजन शिमला में कब किया था?

Subjects

Tags