इल्तुतमिश

‘इक्ता प्रथा’ गुलाम शासक इल्तुतमिश ने चलाई थी।

अजमेर की मस्जिद गुलाम शासक इल्तुतमिश ने बनवाई थी।

अमीरों ने इल्तुतमिश का उत्तराधिकारी ‘रुक्नुद्दीन फिरोज’ को बनाया था।

अमीरों ने इल्तुतमिश का उत्तराधिकारी किसे बनाया था?

आरामशाह की हत्या इल्तुतमिश ने की थी।

आरामशाह को परास्त कर इल्तुतमिश शासक 1210 ई0 में बना था।

आरामशाह को परास्त कर इल्तुतमिश शासक कब बना था?

इल्तुतमिश ‘कुतुबुद्दीन ऐबक’ का गुलाम था।

इल्तुतमिश का पूरा नाम ‘शम्स-उद-दीन इल्तुतमिश’ था।

इल्तुतमिश का पूरा नाम क्या था?

इल्तुतमिश किस वंश का शासक था?

इल्तुतमिश की पुत्री का क्या नाम था?

इल्तुतमिश की पुत्री का नाम रजिया था।

इल्तुतमिश को वास्तविक सुल्तान का दर्जा किस खलीफा से प्राप्त हुआ था?

इल्तुतमिश को वास्तविक सुल्तान का दर्जा बगदाद के ‘अब्बासी खलीफा’ से प्राप्त हुआ था।

इल्तुतमिश को वास्तविक सुल्तान का दर्जा बगदाद के अब्बासी खलीफा से प्राप्त हुआ था।

इल्तुतमिश कौन था?

इल्तुतमिश गद्दी पर 1210 ई० में बैठा था।

इल्तुतमिश गद्दी पर कब बैठा था?

इल्तुतमिश गुलाम वंश का शासक था।

इल्तुतमिश द्वारा स्थापित ‘चालीसा दल’ को बलबन ने समाप्त किया था।

इल्तुतमिश द्वारा स्थापित चालीसा दल को किसने समाप्त किया था?

इल्तुतमिश ने अपना उत्तराधिकारी ‘रजिया सुल्ताना’ को घोषित किया था।

इल्तुतमिश ने अपना उत्तराधिकारी किसे घोषित किया था?

इल्तुतमिश ने अपनी राजधानी को लाहौर से कहां स्थानान्तरित किया था?

इल्तुतमिश ने अपनी राजधानी को लाहौर से दिल्ली स्थानान्तरित किया था।

इल्तुतमिश ने किस उपाधि को धारण किया था?

इल्तुतमिश ने किस पद को वंशानुगत बनाया था?

इल्तुतमिश ने नासिर-उल-मोमिन की उपाधि को धारण किया था।

इल्तुतमिश ने बलबन को किस विजय के उपरान्त खरीदा था?

इल्तुतमिश ने बलबन को ग्वालियर विजय के उपरान्त खरीदा था।

इल्तुतमिश ने यल्दौज को तराईन के मैदान में 1215 ई० में पराजित किया था।

इल्तुतमिश ने यल्दौज को तराईन के मैदान में कब पराजित किया था?

इल्तुतमिश ने सुल्तान के पद को वंशानुगत बनाया था।

कुतुबुद्दीन ऐबक ने अपनी दूसरी पुत्री की शादी इल्तुतमिश से करवाई थी।

गुलाम वंश के शासक इल्तुतमिश की मृत्यु 1236 ई० में हुई थी।

गुलाम वंश के शासक इल्तुतमिश की मृत्यु कब हुई थी?

गुलाम शासक इल्तुतमिश ने दो महत्वपूर्ण सिक्के ‘चांदी का टंका’ और ‘तांबे का जीतल’ प्रारम्भ किये थे।

गुलाम शासक इल्तुतमिश ने दो महत्वपूर्ण सिक्के कौन से प्रारम्भ किये थे?

चंगेज खान ने 1221 ई० में भारत पर इल्तुतमिश के शासनकाल में आक्रमण किया था।

चांदी का टका और तांबे का जीतल सिक्के गुलाम शासक इल्तुतमिश ने प्रारम्भ किये थे।

दिल्ली सल्तनत का वास्तविक संस्थापक इल्तुतमिश था।

पहला तुर्क सुल्तान इल्तुतमिश था जिसने शुद्ध अरबी सिक्के को प्रचलित किया था।

प्रारम्भ में इल्तुतमिश को किससे सामना करना पड़ा था?

प्रारम्भ में इल्तुतमिश को यल्दौज और कुबाचा से सामना करना पड़ा था।

भारत में पहला मकबरा निर्मित कराने का श्रेय गुलाम शासक इल्तुतमिश को है।

मकबरा निर्माण शैली का जन्मदाता गुलाम शासक इल्तुतमिश को स्वीकार किया जाता है।

मंगोलों के प्रथम आक्रमण से भारत को इल्तुतमिश ने बचाया था।

मुईनुद्दीन चिश्ती के दरगाह का निर्माण गुलाम शासक इल्तुतमिश ने कराया था।

शम्सुद्दीन इल्तुतमिश का शासनकाल 1211 ई० से 1236 ई० तक।

Subjects

Tags