हड़प्पा सभ्यता...

Read More...

हड़प्पा सभ्यता...

हड़प्पा सभ्यता को हरयूपिया ऋग्वेद में कहा गया है।

Read More...

सामान्य मनुष्य...

Read More...

सामान्य मनुष्य...

सामान्य मनुष्यों के विचारों , विश्वासों एवं अंधविश्वासों आदि का वर्णन अथर्ववेद में है।

Read More...

सामवेद को भारत...

सामवेद को भारतीय संगीत का जनक कहा जाता है।

Read More...

सबसे बाद का वेद ...

Read More...

सबसे बाद का वेद ...

सबसे बाद का वेद अथर्ववेद है।

Read More...

सबसे प्राचीन व...

Read More...

सबसे प्राचीन व...

सबसे प्राचीन वेद ऋग्वेद है।

Read More...

श्रवण परम्परा ...

श्रवण परम्परा में सुरक्षित होने के कारण वेद को श्रुति कहा जाता है।

Read More...

श्रवण परम्परा ...

Read More...

शिव को शर्व, भव, ...

Read More...

शाकल, वाष्कल, आश...

Read More...

शाकल, वाष्कल, आश...

शाकल, वाष्कल, आश्वलायन, शांखायन तथा मांडूक्य ऋग्वेद की शाखाएं हैं।

Read More...

वेद शब्द का अर्...

Read More...

वेद शब्द का अर्...

वेद शब्द का अर्थ 'ज्ञान' होता है।

Read More...

वेद चार प्रकार ...

वेद चार प्रकार के होते है।

Read More...

वेद कितने प्रक...

Read More...

वेद का शाब्दिक ...

Read More...

वेद का शाब्दिक ...

वेद का शाब्दिक अर्थ 'ज्ञान' है।

Read More...

विभिन्न प्रकार...

विभिन्न प्रकार के संगीत वाद्यों का विवरण सामवेद से प्राप्त होता है।

Read More...

विभिन्न प्रकार...

Read More...

वामनावतार के त...

Read More...

वामनावतार के त...

वामनावतार के तीन पगों के आख्यान का प्राचीनतम स्रोत ऋग्वेद में है।

Read More...

लोपामुद्रा, घो...

Read More...

लोपामुद्रा, घो...

लोपामुद्रा, घोषा, सिकता, आपला एवं विश्वास जैसी विदुषी स्त्रियों का वर्णन ऋग्वेद में है।

Read More...

राजसूय एवं वाज...

राजसूय एवं वाजपेय यज्ञ का पहली बार उल्लेख यजुर्वेद में हुआ है।

Read More...

राजसूय एवं वाज...

Read More...

यजुर्वेद एक ऐस...

यजुर्वेद एक ऐसा वेद है जो गद्य एवं पद्य दोनों में पाया जाता है।

Read More...

भारतीय संगीत क...

भारतीय संगीत का जनक सामवेद को माना जा सकता है।

Read More...

भारतीय संगीत क...

Read More...

भारत का सर्वप्...

भारत का सर्वप्राचीन धर्मग्रंथ वेद है।

Read More...

भारत का सबसे प्...

भारत का सबसे प्राचीन ग्रंथ 'वेद' है।

Read More...

ब्रह्मवेद किस ...

Read More...

ब्रह्मवेद अथर्...

ब्रह्मवेद अथर्ववेद को कहा जाता है।

Read More...

पाप-पुण्य तथा स...

Read More...

पाप-पुण्य तथा स...

पाप-पुण्य तथा स्वर्ग नरक का उल्लेख सर्वप्रथम ऋग्वेद में मिलता है।

Read More...

जैन तीर्थंकर ऋ...

Read More...

जैन तीर्थंकर ऋ...

जैन तीर्थंकर ऋषभदेव एवं अरिष्टनेमि के नामों का उल्लेख ऋग्वेद में मिलता है।

Read More...

चारों वेदो के न...

Read More...

चारों वेदो के न...

चारों वेदो के नाम ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद एवं अथर्ववेद हैं।

Read More...

गायी जा सकने वा...

गायी जा सकने वाली ऋचाओं का संकलन सामवेद में मिलता है।

Read More...

गायी जा सकने वा...

Read More...

कौन सा वेद वेदत...

Read More...

कौन सा एक ऐसा वे...

Read More...

किस वेद में सभा ...

Read More...

किस वेद में वेद...

Read More...

किस वेद में जाद...

Read More...

किस वेद को भारत...

Read More...

कर्मकाण्ड प्रध...

कर्मकाण्ड प्रधान वेद यजुर्वेद है।

Read More...

कर्मकाण्ड प्रध...

Read More...

ऋषभदेव तथा अरि...

Read More...

ऋषभदेव तथा अरि...

ऋषभदेव तथा अरिष्टनेमि का उल्लेख ऋग्वेद में मिलता है।

Read More...

अथर्ववेद सभा ए...

अथर्ववेद सभा एवं समिति को प्रजापति की दो पुत्रियां कहा गया है।

Read More...

अथर्ववेद वेदत्...

अथर्ववेद वेदत्रयी के अन्तर्गत नहीं आता है।

Read More...

अथर्ववेद में व...

अथर्ववेद में वेदत्रयी नहीं आता है।

Read More...

अथर्ववेद में ज...

अथर्ववेद में जादू-टोना तथा तंत्र-मंत्र का उल्लेख है।

Read More...

Category

Tags