स्त्री गुप्तचर...

स्त्री गुप्तचर को मौर्य काल में वृषली, भिक्षुकी एवं परिव्राजक नामों से जाना जाता था।

Read More...

स्त्री गुप्तचर...

Read More...

सांची स्तूप (वि...

सांची स्तूप (विदिशा) के निर्माण का सम्बंध मौर्य काल से है।

Read More...

मौर्य काल में ह...

मौर्य काल में हिरण्य कर नकद के रूप में लिया जाता था।

Read More...

मौर्य काल में ह...

Read More...

मौर्य काल में व...

मौर्य काल में व्यापारियों की श्रेणी के प्रधान को सार्थवाह कहा जाता था।

Read More...

मौर्य काल में व...

Read More...

मौर्य काल में र...

मौर्य काल में राज्य की अर्थ-व्यवस्था कृषि, पशुपालन और वाणिज्य परआधारित थी।

Read More...

मौर्य काल में र...

Read More...

मौर्य काल में र...

मौर्य काल में राजकीय भूमि से होने वाली आय को सीता कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में र...

Read More...

मौर्य काल में म...

Read More...

मौर्य काल में म...

मौर्य काल में मार्ग निर्माण के विशेष अधिकारी को एग्रोनोमई कहा जाता था।

Read More...

मौर्य काल में भ...

मौर्य काल में भारत का व्यापार रोम, फारस, सीरिया, मिस्र आदि देशों से होता था।

Read More...

मौर्य काल में भ...

Read More...

मौर्य काल में ब...

मौर्य काल में ब्याज को रूपिका एवं परीक्षण कहा जाता था।

Read More...

मौर्य काल में ब...

Read More...

मौर्य काल में ब...

Read More...

मौर्य काल में ब...

मौर्य काल में बिना वर्षा के भी अच्छी खेती होने वाली भूमि को अदेवमातृक कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में ब...

मौर्य काल में बलि (कर) भू-राजस्व प्रकार का राजस्व था।

Read More...

मौर्य काल में ब...

Read More...

मौर्य काल में फ...

Read More...

मौर्य काल में फ...

मौर्य काल में फौजदारी न्यायालय को कण्टकशोधन कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में प...

मौर्य काल में पूर्वी तट पर प्रमुख बन्दरगाह का ताम्रलिप्ति नाम था।

Read More...

मौर्य काल में प...

Read More...

मौर्य काल में प...

मौर्य काल में पश्चिमी तट पर प्रमुख बन्दरगाह सोपारा एवं भड़ौच (भृगुकच्छ) थे।

Read More...

मौर्य काल में प...

Read More...

मौर्य काल में न...

मौर्य काल में न्यायालय दो प्रकार की (दीवानी एवं फौजदारी) प्रकार की होती थी।

Read More...

मौर्य काल में न...

Read More...

मौर्य काल में न...

Read More...

मौर्य काल में न...

मौर्य काल में निजी खेती करने पर राजा को उपज का 1/6 भाग दिया जाता था।

Read More...

मौर्य काल में न...

मौर्य काल में नगर न्यायाधीश को व्यावहारिक महामात्र कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में न...

Read More...

मौर्य काल में द...

मौर्य काल में दो प्रकार के (संस्था एवं संचार) प्रकार के गुप्तचर (गूढ़ पुरूष) होते थे।

Read More...

मौर्य काल में द...

Read More...

मौर्य काल में द...

मौर्य काल में दूरी मापने की इकाई को 10 स्टेडिया कहा जाता था।

Read More...

मौर्य काल में द...

मौर्य काल में दीवानी न्यायालय को धर्मस्थीय कहा जाता था।

Read More...

मौर्य काल में द...

Read More...

मौर्य काल में ज...

मौर्य काल में जनपद न्यायाधीश को राज्जुक कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में ज...

Read More...

मौर्य काल में च...

मौर्य काल में चांदी धातु की आहत मुद्रायें चलती थी।

Read More...

मौर्य काल में च...

मौर्य काल में चांदी की आहत मुद्राओं पर मयूर, पर्वत और अर्द्धचंद्र प्रकार की मुहर अंकित होती थी।

Read More...

मौर्य काल में च...

Read More...

मौर्य काल में घ...

मौर्य काल में घूम-घूम कर गुप्तचरी करने वाले को संचार कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में घ...

Read More...

मौर्य काल में क...

Read More...

मौर्य काल में क...

Read More...

मौर्य काल में ए...

मौर्य काल में एक जगह स्थिर होकर गुप्तचरी करने वाले को संस्था कहते थे।

Read More...

मौर्य काल में ए...

Read More...

Category

Tags